JK Youth Conclave: युवा सम्मेलन में दिखा युवा जोश, उपराज्यपाल बोले- नई पीढ़ी सबसे नवीन पारिस्थितिकी तंत्र करेगी विकसित

LG Manoj Sinha inaugurates JK Youth Conclave 2024 and Inspire GenZ Season 2

lg manoj sinha
– फोटो : डीपीआईआर, जम्मू कश्मीर

विस्तार


जेके यूथ कॉन्क्लेव 2024 के आयोजन के दौरान जम्मू का कन्वेंशन सेंटर गुरुवार को युवाओं की चहलकदमी से सजा रहा। यहां एक तरफ रोजगार पाने के लिए हजारों युवा पहुंचे हुए थे। दूसरी तरफ से इंस्पायर जेनजेड और बीट्स ऑफ जेएंडके कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रदेशभर के युवा पहुंचे। इस दौरान एक के बाद एक धमाकेदार प्रस्तुति देने दर्शकों को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया।

युवा सम्मेलन का शुभारंभ जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने किया। इस दौरान उपराज्यपाल ने कहा कि इस तरह की नई पहलें प्रदेश की नई पीढ़ी को अपने व्यक्तिगत विकास के लिए संलग्न और प्रेरित करने में सहायक होंगीं।

उन्होंने कहा कि यूथ कॉन्क्लेव जैसे कार्यक्रम युवाओं को जम्मू-कश्मीर के सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक परिदृश्य को आकार देने और विभिन्न क्षेत्रों पर अपनी छाप छोड़ने के लिए प्रेरित करेंगे। नई पीढ़ी सबसे नवीन पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने और भविष्य की सफलता को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

नामी कंपनियों में योग्यता के आधार पर दिया रोजगार

तालाब तिल्लो स्थित कनवेंशन सेंटर में रोजगार मेला सुबह दस बजे शुरू हुआ। यह आयोजन जेके रोजगार निदेशालय की ओर से करवाया गया। इसमें देशभर से 50 से ज्यादा कंपनियां शामिल हुईं। 15 से 20 हजार युवाओं को साक्षात्कार के लिए बुलाया गया। चयन के बाद देश में नामी कंपनियों में काम करने का मौका दिया जाएगा। यह पहली बार हो रहा है कि तीन हजार पदों के लिए मेला हो रहा है। इससे पहले 100 से 200 पदों के लिए ही मेले आयोजित किए जाते रहे हैं।

इससे पहले एलजी की मुलाकात के दौरान उपराज्यपाल ने वर्चुअली लोगों से बातचीत की। इस दौरान एलजी मनोज सिन्हा ने कहा कि सभी पहलों को आम हित में होना चाहिए और निर्णयों को बिना किसी डर या पक्षपात के लागू किया जाना चाहिए। अधिकारी सार्वजनिक आउटरीच कार्यक्रमों का आकलन करें और शिकायतों के कुशल निवारण के लिए सुधारात्मक उपाय करें।

उन्होंने कहा कि हमें भौतिक और सामाजिक पूंजी दोनों को मजबूत करने पर ध्यान देना चाहिए। हमें नागरिकों की क्षमताओं को बढ़ाने के लिए सार्वजनिक सेवा वितरण तंत्र में सुधार, सार्वजनिक शिकायतों का त्वरित समाधान, कल्याणकारी योजनाओं के त्वरित और पारदर्शी कार्यान्वयन का प्रयास करना चाहिए।  

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *